वैभव नही महानता का वरण करें

Author: Pt shriram sharma acharya

Web ID: 460

` 12 Add to cart

Availability: In stock

Condition: New

Brand: AWGP Store

Table of content

• ऐश्वर्य को अतिरंजित महत्त्व न दें
• विचारणा में दूरदर्शिता हो आचरण में शालीनता
• उत्कृष्टता का वरण एक महान पुरुषार्थ
• चरित्रनिष्ठा-सर्वोपरि शक्ति
• श्रेष्ठता के दो आधार सादा जीवन, उच्च विचार
• अंत:करण पवित्र भावों से अनुप्राणित हो
• गुणग्राही बनें, दुर्गुणों से दुर रहें
• व्यक्तित्व का श्रृंगार-सदगुण
• समस्त दुर्गुणों का मूल कारण अंहकार
• बिना मोल की अमूल्य संपत्ति शालीनता


Author Pt shriram sharma acharya
Edition 2015
Publication yug nirman yojana press
Publisher Yug Nirman Yojana Vistara Trust
Page Length 64
Dimensions 12 cm x 18 cm




Write Your Review



Relative Products